Kalka Shimla Train, Himachal

Kalka Shimla Train Himachal, Tarun Chandel Photoblog

कभी कभी मैं ये सोचता हूँ
कि चलती गाड़ी से पेड़ देखो तो ऐसा लगता है कि दूसरी तरफ़ जा रहे हैं
मग़र हकीकत में पेड़ अपनी जगह खड़े हैं
तो क्या ये मुमकिन है
सारी सदियाँ कतार अन्दर कतार अपनी जगह खड़ी हों
ये वक़्त ठहरा हो और हम ही गुज़र रहे हों

मैं ये सोचता हूँ तो क्या ये मुमकिन है
सच ये हो कि सफ़र में हम हैं, गुज़रते हम हैं
जिसे समझते हैं गुज़रता है हम वो थमा है

गुज़रता है, थमा हुआ है, किसे ख़बर है?
किसे पता है कि ये वक़्त क्या है?

- जावेद अख्तर

The World Heritage site, Kalka Shimla Train of Himachal.

Tarun Chandel

You may want to see these as well:
Glassgow Night Scotland Trip , Tarun Chandel Photoblog Experiment Moon and city, Tarun Chandel Photoblog Moon and the City Ta, Tarun Chandel Photoblog Switzerland Trip Interlaken Tarun Cha, Tarun Chandel Photoblog Thanks For Visiting, Tarun Chandel Photoblog

0 comments:

Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

Follow Tarun Chandel Photography on Instagram Follow Tarun Chandel Photography on Facebook Follow Tarun Chandel Photography on Twitter Subscribe to Tarun Chandel Photography RSS